आम जनता की आवाज

Search
Close this search box.

गोपालगंज पुलिस ने लंबे समय से फरार कुख्यात अपराधी जितेंद्र राम उर्फ अतावास राम को दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया है|

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

गोपालगंज पुलिस ने लंबे समय से फरार कुख्यात अपराधी जितेंद्र राम उर्फ अतावास राम को दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया है|

 

एसआइटी और डीआइयू ने संयुक्त कार्रवाई में गिरफ्तारी की है| बरौली थाना क्षेत्र के बलहा गांव निवासी कुख्यात जितेंद्र अपने भाई की हत्या के बाद से फरार चल रहा है| पुलिस ने इसपर 25 हजार रुपए का इनाम रखा था| सोमवार को एसपी स्वर्ण प्रभात ने गिरफ्तारी की पुष्टि की| Read More…

एसपी ने कहा कि टॉप-44 इनामी अपराधियों की सूची में जितेंद्र राम शामिल था. गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने कड़ी सुरक्षा के बीच कोर्ट में पेश किया, उसके बाद जेल भेज दिया| कार्रवाई में बरौली थानाध्यक्ष जयहिंद यादव के अलावा एसआइटी और डीआइयू की टीम शामिल रही. एसपी ने दोनों टीमों को इनाम की राशि देकर पुरस्कृत करने की बात कही है| वहीं, इस कार्रवाई के बाद मृतक के परिवार को न्याय मिलने की उम्मीद जगी है|

पुलिस के मुताबिक आठ साल पहले 17 जनवरी 2016 को बरौली थाना क्षेत्र के बलहा गांव में दो गज जमीन के विवाद को लेकर जितेंद्र राम उर्फ अतावास राम का सगे भाई शंभू राम से विवाद हो गया था| शराब के नशे में जितेंद्र राम उर्फ अतावास राम ने अपने भाई शंभू राम को चाकू घोंपकर मौत के घाट उतार दिया, उसके बाद फरार हो गया. पुलिस ने मामले में फरार अपराधी की संपत्ति को कुर्क किया था, लेकिन आठ साल से उसकी गिरफ्तारी नहीं हो पा रही थी| Read More…

एसपी ने फरार अपराधियों की सूची में जितेंद्र राम उर्फ अतावास राम का नाम शामिल किया और 25 हजार रुपए का इनाम घोषित किया| जिसके बाद एसआइटी और डीआइयू ने जितेंद्र राम उर्फ अतावास राम की गिरफ्तारी की|

 

प्राण प्रतिष्ठा के बाद भावुक हुए पीएम मोदी, बोल- राम विवाद नहीं, राम समाधान हैं

 

Leave a Comment