आम जनता की आवाज

Search
Close this search box.

सीएम योगी आदित्यनाथ की अगुवाई में उत्तर प्रदेश बना निवेश का नया केंद्र.

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

कुशल नेतृत्व में बीमारू से बीमारू राज्य भी समृद्धि की नई ऊंचाइयों पर पहुंच सकता है। इसका एक जबरदस्त उदाहरण उत्तर प्रदेश है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश उद्योग और निवेश का नया केंद्र बन रहा है।

यहां पिछले कुछ सालों में रिकॉर्ड निवेश हो रहा है। यह निवेश अलग-अलग क्षेत्र में हो रहे हैं, जिससे ना सिर्फ उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था को रफ्तार मिल रही है बल्कि बड़ी संख्या में रोजगार का सृजन भी हो रहा है।

उत्तर प्रदेश में तीन ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी के जरिए अभी तक दो लाख करोड़ रुपए से अधिक का निवेश हो चुका है। इस रिकॉर्ड निवेश के जरिए प्रदेश में 1953 से अधिक उद्योग लग चुके हैं।

यही नहीं इसमे से 843 उद्योंगों में तो व्यवसायिक उत्पादन शुरू हो चुका है। जबकि 910 प्रोजेक्ट ऐसे भी जो लगभग लग चुके हैं और आने वाले दिनों में इसमे जल्द ही उत्पादन शुरू होने जा रहा है।

वर्ष 2018 के अगस्त माह से 2023 दिसंबर तक 200758.05 लाख करोड़ रुपए का निवेश हो चुका है। आज उत्तर प्रदेश में चौथी ग्राउंड सेरेमनी होने जा रही है। इसमे 1- लाख करोड़ रुपए से अधिक के उद्योग कारोबर के प्रोजेक्ट लगाने की तैयारी है। प्रदेश सरकार की इस मुहिम के जरिए 34 लाख लोगों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष तौर पर लोगों को रोजगार मिल सकता है

इस बार के ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी में अयोध्या निवेश का केंद्र रहने वाला है। यहां 10155.79 करोड़ रुपए से अधिक का निवेश प्रस्तावित है। पर्यटन के क्षेत्र में यहां कुल 3129 करोड़ रुपए से अधिक के निवेश के प्रस्ताव प्राप्त हो चुके हैं। गौर करने वाली बात है कि द हाउस ऑफ अभिनंदन लोढ़ा ग्रुप की ओर से तीन हजार करोड़ रुपए के निवेश की तैयारी अयोध्या में है।

Leave a Comment