आम जनता की आवाज

Search
Close this search box.

टिहरी लोकसभा सीट: भाजपा का राजशाही परिवार पर फिर से भरोसा,12वीं बार चुनाव मैदान में ‘राजपरिवार’

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

भारतीय राजनीति में लोकसभा चुनाव को लेकर  उमंग और उत्साह का माहौल है। लोकसभा चुनावों का दौर, जिसे लोगों का महापर्व माना जाता है, फिर से राजनीतिक उतार-चढ़ाव का दृश्य प्रस्तुत कर रहा है। एक ऐसा चुनावी मैदान है टिहरी लोकसभा सीट, जो भाजपा के राजपरिवार के संरक्षण में है।

माला राज्यलक्ष्मी शाह, जिन्हें ‘महारानी’ के रूप में पुकारा जाता है, ने टिहरी में अपने अध्यक्षता के क्षेत्र में अथाह विकास किया है। उन्होंने स्वास्थ्य, शिक्षा, बिजली, पानी आदि क्षेत्रों में विकास के काम किए हैं, जिससे टिहरी की जनता को सुविधाएं मिली हैं।

भाजपा ने माला राज्यलक्ष्मी पर अपना भरोसा दोबारा जताया है, जिससे यह तीसरी बार है कि उन्हें लोकसभा चुनावों में प्रतिस्थापित किया गया है। ‘राजपरिवार’ का नाम टिहरी में निश्चित रूप से एक बड़ा आयाम बन चुका है, जिसमें माला राज्यलक्ष्मी शाह ने अपने अद्भुत कार्यों से अहम भूमिका निभाई है।

चुनावी प्रक्रिया में इस बार भी रोमांच है, क्योंकि टिहरी में महारानी के विरुद्ध अग्रणी दल ने वार्तालाप को चुनौती दी है। लेकिन माला राज्यलक्ष्मी शाह का समर्थन उनके अद्वितीय विकास कार्यों और टिहरी की जनता के साथ जुड़े संबंधों के कारण फिर से बना है।

आम जनता की उम्मीदों और अपेक्षाओं के साथ, माला राज्यलक्ष्मी शाह ने अपने क्षेत्र में विकास का पत्थर साबित किया है। जनता की समस्याओं और उत्साह के साथ, टिहरी ने महारानी को एक बार फिर से उनकी सेवाओं को स्वीकार किया है।

इस रूझान भरे चुनावी मैदान में, टिहरी लोकसभा सीट पर माला राज्यलक्ष्मी शाह के जीतने की संभावनाएं उच्च हैं। उनके साथ रहे समर्थक, जो उनके कार्यों और नेतृत्व को प्रशंसा करते हैं, उन्हें एक बार फिर से सत्ता के कुर्सी पर बैठाने के लिए तैयार हैं।

Leave a Comment