आम जनता की आवाज

Search
Close this search box.

वन्य जीव तस्करी पर उत्तरकाशी पुलिस की बड़ी कार्रवाई

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

वन्य जीव तस्करी पर उत्तरकाशी पुलिस की बड़ी कार्रवाई

लैपर्ड की खाल तस्करी करते एक तस्कर गिरफ्तार, 2 खालें बरामद

पुलिस टीम को SP उत्तरकाशी द्वारा दिया गया 5 हज़ार का पुरस्कार

पुलिस महानिदेशक उत्तराखण्ड, श्री अभिनव कुमार द्वारा उत्तराखण्ड पुलिस को राज्य में मानव सम्बन्धी अपराधों के साथ-साथ वन्य जीव व जीवों के अंगों की तस्करी को गम्भीरता से लेते हुये उसके नियंत्रण व प्रभावी रोकथाम के निर्देश दिये गये हैं, इसी क्रम में उत्तरकाशी के पुलिस कप्तान श्री अर्पण यदुवंशी द्वारा जनपद में वन्य जीव एवं जीवों के अंगों की तस्करी के प्रति संवेदनशीलता बरतते हुये तस्करों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये हैं, जिसके तहत जनपद में पुलिस व एसओजी की टीमें संदिग्ध तत्वों, तस्करों, माफियाओं को चिन्हित कर उन पर लगातार कार्यवाही कर रही है। एसओजी उत्तरकाशी द्वारा गहन सुरागरसी पतारसी करते हुये एक सटीक जानकारी जुटायी गयी।

जिस पर पुलिस उपाधीक्षक उत्तरकाशी/ऑपरेशन श्री प्रशान्त कुमार द्वारा एसओजी प्रभारी श्री प्रकाश राणा, थानाध्यक्ष पुरोला श्री मोहन कठैत एवं वाइल्ड लाइफ क्राइम कंट्रोल व्यूरो दिल्ली (WCCB) की एक संयुक्त टीम गठित की गयी। टीम द्वारा कल 16.02.2024 की देर रात्रि को जाल बुनते हुये थाना पुरोला क्षेत्र से देहरादून- नौगांव राष्ट्रीय राजमार्ग पर जरड़ाखड्ड के पास से वरुण उर्फ लक्की नामक तस्कर को लैपर्ड की खाल की तस्करी करते हुये गिरफ्तार किया गया, जिसके कब्जे से 02 खालें बरामद हुयी हैं। पुलिस द्वारा वन्य जीव की खाल की तस्दीक हेतु वन विभाग की टीम को मौके पर बुलाया गया।

गिरफ्तारी व बरामदगी के आधार पर अभियुक्त वरुण के विरुद्ध थाना पुरोला पर वन्य जीव संरक्षण अधिनियम की धारा 9/51 के तहत अभियोग पंजीकृत किया गया,मामले में अग्रिम विधिक कार्यवाही जारी है। अभियुक्त के आपराधिक इतिहास की जानकारी जुटाई जा रही है। अभियुक्त को आज मा0 न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।
अभियुक्त उक्त खालों को रिखनाड़ लाखामण्डल के जंगलों से लाकर तराई के एरिया में उच्च दामों पर बेचने के लिये ले जा रहा था, जिसको एसओजी व पुलिस की टीम ने देर रात्रि को दबोच लिया।

पुलिस कार्यालय उत्तरकाशी में आयोजित पत्रकार वार्ता में सी0ओ0 श्री प्रशान्त कुमार द्वारा बताया गया कि हमारी एसओजी की टीम पिछले कई दिनों से इसकी निगरानी कर रही थी, जिसमें कल रात को टीम को तस्कर वरुण (लक्की ) को पकडने में कामयाबी हाथ लगी है, लैपर्ड/गुलदार वन्य जीव की दुर्लब होने वाली प्रजातियों मे एक है, वन्य जीव संरक्षण अधिनियम की अनुसूची 1 मे इसे उच्चतम स्तर की सुरक्षा प्राप्त वन्य जीव प्रजातियों में रखा गया है।

गिरफ्तार अभियुक्त- वरुण उर्फ लक्की पुत्र बलराम निवासी नाड़ा लाखामण्डल देहरादून, उम्र- 29 वर्ष।

बरामद माल- 2 खाल (लेपर्ड की)
पुलिस टीम-
1- उ0नि0 प्रकाश राणा प्रभारी एसओजी
2- उ0नि0 राजेश कुमार- चौकी प्रभारी नौगाँव
3- हे0कानि0 अब्बल सिंह- थाना पुरोला
4- हे0कानि0 प्रवीन परमार-थाना पुरोला
5- हे0कानि0 सूरज सिंह – एसओजी
6- कानि0 दीपक नेगी – एसओजी
7- WCCB की टीम

वन विभाग की टीम-
1- वनक्षेत्राधिकारी श्री शेखर सिंह राणा
2- वन दरोगा जयवीर राणा
3- वन दरोगा जयदेव

श्रीमान पुलिस अधीक्षक उत्तरकाशी द्वारा गिरफ्तारी व बरामदगी करने वाली पुलिस टीम की सराहना करते हुये टीम के उत्सावर्धन हेतु 5000 रु0 का पुरस्कार देने की घोषणा की गयी।

Leave a Comment