आम जनता की आवाज

Search
Close this search box.

चुनाव बहिष्कार

congree

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

चुनाव बहिष्कार

उत्तराखंड में प्रथम चरण में पांचो लोकसभा सीटों पर चुनाव संपन्न हो गया चुनाव संपन्न होने के बाद मतदान प्रतिशत की जब जानकारी साझा की गई तो शासन प्रशासन के पांव फूल गए क्योंकि 35 से ज्यादा गांव, खत, नजरों के लोगों ने मतदान का पूर्णतः बहिष्कार कर दिया था और आपको बता दे कि इन गांव में 13000 से ज्यादा वोटर रहते हैं।

वही उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अपने प्रमुख सचिव आर.के.सुधांशु को सभी गांव की नाराजगी की वजह तलाशने और इसका प्रभावी समाधान करने के दिशा निर्देश दिए हैं।

वही जब कांग्रेस के प्रवक्ता शीशपाल पाल सिंह बिष्ट से इस बावत बात की गई तो उन्होंने कहा कि सरकार यदि समय रहते सचेत हो जाती तो 35 से अधिक गांव के लोग जिन्होंने मतदान का बहिष्कार किया वह अपने मताधिकार का उपयोग कर सकते थे|

लेकिन ऐसा नहीं हुआ आगे उन्होंने कहा की भाजपा सरकार की नीति हमेशा से यही रही है कि जब सांप निकल जाता है तब भाजपा लकीर पीटने का काम करती है आगे शीशपाल सिंह बिष्ट ने कहा कि 7 साल से प्रदेश में आपकी सरकार रही है ना तो आप जनता की सुध लेते हैं और न ही आपकी सरकार ने प्रदेश में विकास में कोई कार्य किया है यह बहिष्कार आपके कुशासन का प्रतीक है।

Leave a Comment