आम जनता की आवाज

Search
Close this search box.

‘मंदिर गुलामी का रास्‍ता…’ बिहार के शिक्षा मंत्री चंद्रशेखर के फिर बिगड़े बोल, कहा- अब एकलव्‍य का बेटा अंगूठा नहीं देगा

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

रोहतास. बिहार के शिक्षा मंत्री और लालू यादव की पार्टी राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) के विधायक प्रोफेसर चंद्रशेखर ने एक बार फिर से विवादित बयान दिया है. उन्‍होंने कहा कि मंदिर गुलामी का रास्‍ता है, जबकि शिक्षा प्रकाश का मार्ग है. फते बहादुर के बयान का समर्थन करते हुए मंत्री चंद्रशेखर ने कहा कि उन्‍होंने अपनी नहीं, बल्कि हमारी मां सावित्री बाई फुले की बात को देहराया है. बता दें कि हाल ही में आरजेडी के विधायक फतेह बहादुर सिंह ने मां सरस्वती को लेकर विवादित बयान दिया था. फतेह बहादुर सिंह ने इससे पहले मां दुर्गा पर भी विवादित बयान दिया था जिसका खूब विरोध हुआ था.

बिहार के शिक्षा मंत्री और विवादित बयानों को लेकर चर्चा में रहने वाले चंद्रशेखर ने एक बार फिर से चौंकाने वाला बयान दिया है. उन्‍होंने कहा, ‘मंदिर का रास्‍ता गुलामी का होता है, जबकि शिक्षा प्रकाश का रास्‍ता. फते बहादुर (राजद विधायक) ने अपनी नहीं, बल्कि हमारी मां सावित्रीबाई फुले की बात को ही दोहराया.’ दरअसल, लालू यादव की पार्टी के विधायक और बिहार के मंत्री प्रोफेसर चंद्रशेखर रोहतास के डेहरी में एक कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे थे. समारोह को संबोधित करते हुए उन्‍होंने मंदिर को लेकर विवादित बयान दे डाला. उन्‍होंने फते बहादुर के बयान का समर्थन करते हुए कहा कि मंदिर गुलामी का रास्‍ता होता है. वहीं, स्‍कूल का रास्‍ता प्रकाश दिखाता है.

‘अब एकलव्‍य का बेटा अंगूठा नहीं देगा’
बिहार के शिक्षा मंत्री प्रोफेसर चंद्रशेखर यहीं नहीं रुके. उन्‍होंने आगे कहा, ‘फते बहादुर ने अपनी बात नहीं बोली, बल्कि उन्‍होंने तो हमारी माता सावित्रीबाई फुले की बात को दोहराया. लेकिन, षडयंत्रकारियों ने उनके गले की कीमत लगा दी.’ चंद्रशेखर ने कहा कि अब एकलव्‍य का बेटा अंगूठा दान नहीं देगा. शहीद जगदेव प्रसाद का बेटा आहुति नहीं देगा. बिहार के शिक्षा मंत्री ने कहा कि अब वह आहूति लेना जानता है. उन्होंने कहा षड्यंत्रकारी याद रखें बहुजन लोगों का इतना पसीना बहेगा कि समंदर बन जाएगा और विरोधी सात समंदर पार खड़े नजर आएंगे.

रामचरितमानस को लेकर विवादित बयान
बिहार के शिक्षा मंत्री चंद्रशेखर का विवादों से पुराना नाता रहा है. पिछले साल उन्‍होंने रामचरितमानस को लेकर विवादित बयान दिया था. एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा था कि रामचरितमानस में पोटेशियम साइनाइड है, जब तक यह रहेगा तब तक इसका विरोध करते रहेंगे. मंत्री यहीं नहीं रुके थे रामचरितमानस के अरण्य कांड की चौपाई पूजहि विप्र सकल गुण हीना शुद्र न पूजहु वेद प्रवीणा को लेकर कहा कि यह क्या है?

Tags: Bihar News, Lalu Yadav

Source link

Leave a Comment